हाशिया

बीच सफ़हे की लड़ाई

भूमकालः साथियों के साथ एक सफर

Posted by Reyaz-ul-haque on 6/11/2010 12:49:00 PM

हाशिया पर हमने आउटलुक में प्रकाशित अरुंधति रॉय की चर्चित रिपोर्ट का अभिषेक श्रीवास्तव द्वारा हिंदी में संक्षिप्त अनुवाद पोस्ट किया था. इस रिपोर्ट ने देश और दुनिया में माओवाद और सामाजिक रूपांतरण में हिंसा के उपयोग पर एक नई बहस को जन्म दिया था. इस विवाद में भारत के गृह मंत्री से लेकर अनेक बुद्धिजीवी भी शामिल हुए. यह विवाद अब भी थमा नहीं है. पेश है, पहली बार इस रिपोर्ट का पूरा हिंदी अनुवाद. यह अनुवाद नीलाभ ने किया है, जिन्होंने अरुंधति के मशहूर उपन्यास गॉड ऑफ स्माल थिंग्स  का अनुवाद किया था. यह रिपोर्ट बहुत लंबी है, इसलिए यहां इसका पीडीफ वर्जन पोस्ट किया जा रहा है, ताकि आप इसे डाउनलोड करके पढ़ सकें.

भूमकालः साथियों के साथ एक सफर





Bhoomkal

Related Posts by Categories



Widget by Hoctro | Jack Book
  1. 3 टिप्पणियां: Responses to “ भूमकालः साथियों के साथ एक सफर ”

  2. By Jandunia on June 11, 2010 at 1:20 PM

    सुंदर पोस्ट

  3. By आचार्य जी on June 11, 2010 at 2:11 PM

    आईये पढें ... अमृत वाणी।

  4. By ish madhu talwar on June 12, 2010 at 1:32 PM

    shukriya....lekin, yah to hindi outlook mein bahut pahle padh chuke hain...

सुनिए : ऐ भगत सिंह तू जिंदा है/कबीर कला मंच


बीच सफ़हे की लड़ाई


“मुझे अक्सर गलत समझा गया है। इसमें कोई संदेह नहीं होना चाहिए कि मैं अपने देश को प्यार करता हूँ। लेकिन मैं इस देश के लोगों को यह भी साफ़ साफ़ बता देना चाहता हूँ कि मेरी एक और निष्ठा भी है जिस के लिए मैं प्रतिबद्ध हूँ। यह निष्ठा है अस्पृश्य समुदाय के प्रति जिसमे मैंने जन्म लिया है। ...जब कभी देश के हित और अस्पृश्यों के हित के बीच टकराव होगा तो मैं अस्पृश्यों के हित को तरजीह दूंगा। अगर कोई “आततायी बहुमत” देश के नाम पर बोलता है तो मैं उसका समर्थन नहीं करूँगा। मैं किसी पार्टी का समर्थन सिर्फ इसी लिए नहीं करूँगा कि वह पार्टी देश के नाम पर बोल रही है। ...सब मेरी भूमिका को समझ लें। मेरे अपने हित और देश के हित के साथ टकराव होगा तो मैं देश के हित को तरजीह दूंगा, लेकिन अगर देश के हित और दलित वर्गों के हित के साथ टकराव होगा तो मैं दलितों के हित को तरजीह दूंगा।”-बाबासाहेब आंबेडकर


फीड पाएं


रीडर में पढें या ई मेल से पाएं:

अपना ई मेल लिखें :




हाशिये में खोजें